Haldi Ke Fayde : Turmeric Benefits in Hindi-हल्दी के चमत्कारी फायदे 2021

Share it

Haldi Ke Fayde- हल्दी का अंग्रेजी नाम “Turmeric” / टर्मरिक है | हल्दी एक  प्रकार का मसाला है जो हर भारतीय के रसोई में आसानी से मिल जाता है |  यह बहुत ही गुणकारी है | हल्दी के ओषधिए फायदे भी बहुत है |

आइये जानते है हल्दी क्या है और  इसके क्या  फायदे है  और इसके चमत्कारी ओषधिए लाभ के बारे में |

हल्दी क्या है और इसके क्या फायदे है : What is Turmeric?

 

Haldi  का अंग्रेजी नाम Turmeric है |

हल्दी का वानस्पतिक नाम ( Scientific Name ) – Curcuma Longa  है |

यह  हमें  पौधे से प्राप्त होती है |  यह एक वनस्पतिये पौधा है जिसकी लम्बाई करीब 5 फुट होती है और इसके पत्ते केले के पत्तो के सामान होते है |

इस पौधे से हमे हमें हल्दी गाठ के रूप में प्राप्त होती है जैसे की अदरक की गांठ होती है  |

हल्दी की गांठ का रंग पीला होता है  और इसका पीला रंग इसमें मौजूद करक्यूमिन  ( Curcumin )  नाम के कैमिकल की वजह से होता है |

Haldi Ke Fayde : शारीरिक  मजबूती और इम्युनिटी  बढ़ाने में

Haldi Ke Fayde–  भारतीय घरो में सब्जी में हल्दी का उपयोग बहुत पुराने समय से ही होता आ रहा है | हल्दी का उपयोग शरीर को मजबूत बनाने में और  शरीर की  इम्युनिटी  बढ़ाने में किया  जाता है |

हल्दी में  एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी बायोटिक तत्व पाए जाते है | नियमित रूप से हल्दी का सेवन  करने से हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता ( Immunity Booster ) बढ़ती है |

कच्ची हल्दी / अम्बा हल्दी के फायदे -Amba Haldi Benefits

Amba Haldi Ke Fayde- सुखी हल्दी के अलावा कच्ची हल्दी के फायदे ( Kachi haldi ke fayde ) भी बहुत है | सर्दियों में कच्ची हल्दी ( Kachi Haldi ) का उपयोग करने पर शरीर में मजबूती और ऊर्जा आती  है जिसकी वजह से जल्दी  से सर्दी  जुखाम जैसे रोग नहीं होते है |

कच्ची हल्दी को गर्म दूध में मिलकर पीने से खासी और कफ जैसे रोगो में रहत मिलती है |

हल्दी के दूध के फायदे-Hali Dudh Ke Fayde ( Benefits of  Turmeric Milk )   –

Haldi Dudh Ke Fayde- अगर आपके शरीर की मासपेशियो में कंही दर्द या सूजन हो , या कंही चोट लगी हो तो हल्दी पाउडर को सोते समय गर्म दूध में मिलाकर  पीने से बहुत आराम आता है |

हल्दी में एंटी ऑक्सीडेंट  तत्व होता है और दूध में कैल्शियम होता है जो हमारे शरीर की हड्डियों को मजबूती प्रदान करता है |

गुड़ और हल्दी के फायदे –

सुखी हल्दी पाउडर को गुड़ के साथ मिलाकर गोलिया बना ले और रात को सोते समय खांए | इसे खाने से खासी में बहुत आराम मिलता है | ये वात पित्त और कफ जैसे रोगो में बहुत लाभकारी है |

हल्दी का आचार ( Turmeric Pickle ) –

भारत के कुछ राज्यों में सर्दियों में हल्दी को मीट के साथ मिलाकर अचार जैसा बना लेते है इसे हल्दी जमाना कहते  है | पीसी  हुई हल्दी  को  देशी घी में बनाते है  जिसकी वजह से ये जम जाती है और फिर बाद में गर्म करके थोड़ा थोड़ा खाते रहते है |

             सर्दियों में कच्ची हल्दी  का अचार बनाकर भी खाया जाता है |

Haldi Ke Fayde For Heart- हल्दी का फायदा दिल के रोग के  लिए

हल्दी का पानी – हल्दी का पानी हार्ट के लिए बहुत ही गुणकारी है  | हल्दी को गर्म पानी  के साथ   पीने से हार्ट अटेक के सम्भावनाये कम हो जाती है |

यह हमारे शरीर के खून को पतला करती है  और खून में क्लॉट  नहीं बनने देता |

इसका पानी शरीर में  रक्त प्रवाह को सुचारु रूप से बहने  में मदद करता है |

इसके  एंटी ऑक्सीडेंट तत्व शरीर से विषैले प्रदार्थ ( Toxins )  को बहार निकलने में मदद में करते है और खून  को साफ़ करता है |

हल्दी का पानी पीने से  शरीर से  कोलेस्ट्रॉल लेवल भी कम होता है यह  पानी लिवर को डिटॉक्सीफाई करता है  और किडनी के लिए भी फायदेमंद है |

Haldi Ke Fayde Skin Ke Liye- गोरेपन  के लिए हल्दी का उपयोग –

हिन्दू  रीती रिवाज  के अनुसार शादियों में दूल्हा दुल्हन को हल्दी का उबटन लगाया जाता है |

इसका  उपयोग सौंदर्य प्रसाधन सामग्री बनाने में किया जाता है | हल्दी का उबटन बनाया जाता है और चेहरे के गोरापन के लिए इसको लगाया जाता है  जिससे  चेहरे की त्वचा सुन्दर हो जाती है |

Haldi  का फेस पैक  भी बनाया जाता है | अगर आप जानना चाहते की हल्दी का फेस पैक कैसे बनाया जाता है तो यंहा क्लिक करे – हल्दी का फेस पैक कैसे बनाते है ?

शरीर की त्वचा के  बाहरी भाग पर  कोई चोट या कोई कट लगा हो तो उस पर हल्दी लगाने से  आराम मिले जायेगा | हल्दी में मौजूद एंटी बैक्ट्रियल   तत्व बैक्ट्रिया को पनपने से रोकते है |

हल्दी के फायदे और नुकसान – हल्दी को कब  और कैसे खाये ?

हल्दी के फायदे बहुत है पर अगर सही मात्रा और सही समय पर खाया जाये |

कभी कभी ये हानिकारक भी हो सकती है | इसका सेवन  बहुत ध्यान से करना चाहिए

इसकी  तासीर बहुत गर्म होती है इसलिए इसको बहुत कम मात्रा में ही खाना चाहिए |

गर्भवस्था में इसका सेवन बहुत कम मात्रा में करना चाहिए अन्यथा गर्भपात का खतरा होता है |

हल्दी से बनी चीजे अक्सर सर्दियों में खाई जाती है |

गर्मी में यह हमारे लिए हानिकारक हो सकती है |  गर्मी में इसे बहुत कम मात्रा में खाना चाहिए |

web designing course
Free Web Designing Course

Leave a Comment