10 Best Honey Ke Fayde- शहद के फायदे , गुण और उपयोग 2021

Share it

Honey Ke Fayde- हम  सदियों से  अपने दैनिक जीवन में शहद ( Honey )  का उपयोग करते आ रहे है शहद  हमारे बहुत से काम आता है |

प्राकर्तिक शहद मधुमक्खियों  के दवारा बनाया जाता है और यह कभी ख़राब नहीं होता है |

मधुमक्खी  पालन करना भी रोजगार का एक जरिया  है |

आइये जानते है मधुक्खी पालन और इसके दवारा बनाये गए शहद का उपयोग –

How to do Honey Bee Keeping Farming- मधुमखी पालन कैसे करते है ?

Honey Bees Keeping  Farming

मधुमक्खी पालन करने के लिए एक बॉक्स का उपयोग किया जाता है इसमें अलग अलग तरह की मधुमक्खी काम आतीहै |

इन बॉक्स को अलग अलग जगह रखा जाता है और जंहा जिस प्रकार की खेती या फसल का सीजन है वंहा इनको रखने पर मधुमक्खियां उसी तरह का शहद बनाती  है | एक बॉक्स में लगभग  4 से 5 किलो शहद जमा  होता है |

शहद वैसे तो एक ही प्रकार का होता है पर मधुमक्खियां अलग अलग जगह जगह पर अलग तरह का शहद  बनाती  है |

इसका स्वाद  निर्भर करता है की मधुमक्खियां कोनसे फूलो / पुष्पों का रस ग्रहण कर  रही है |

मधुमक्खियों को अलग अलग श्रेणी में वर्गीकृत किया गया है ये निम्न प्रकार है –

  • रानी मधुमक्खी ( Queen Bee )
  • नर मधुमक्खी ( Dron )
  • मादा मधुमक्खी ( Workers )

रानी मधुक्खी इन सब में  प्रमुख होती है इसका काम होता है अंडे देना और बच्चे उत्पन्न करना |

माद्दा मधुमक्खी को काम करने वाली यानी वर्कर्स की श्रेणी  की मधुमक्खी मन गया है |

मादा मधुमख्हियो का काम, रानी मधुमक्खी की देखभाल करना उनके बच्चो  के लिए शहद इकठा करना आदि है |

Honey Benefits, Uses and Properties –  Honey ke Fayde गुण और उपयोग

शहद की बनावट और  रासायनिक संरचना ( Chemical Composition of Honey )

शहद एक प्राकर्तिक पर्दार्थ है , इसमें मुख्य रूप से शर्करा और पानी होता है |

इसमें  अमीनो एसिड,कार्बनिक अम्ल, फ्लेवोनोइड, खनिज, विटामिन आदि कई पर्दार्थ होते है |

Honey ke fayde बहुत है ये हमारे बहुत काम आता है जैसे –

Use of honey in physical treatment and diseases- शारीरिक इलाज और बीमारियों में शहद का उपयोग  –

Honey बहुत ऊर्जावान पर्दार्थ है यह शरीर को मजबूत और दिमाग को तेज बनता है इसलिए बढ़ती उम्र के बच्चो के लिए लगातार सेवन करना बहुत उत्तम है |

हनी का उपयोग शुगर और कैंसर जैसी बीमारियों के इलाज में भी किया जाता है |

जोड़ो के लिए सरसो का हनी सबसे बेस्ट है |

इसके सेवन से  शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता ( Immunity Power ) बढ़ती है |

यह मस्तिक्ष को तेज करता है और मेमोरी को  बढ़ाता है |

हनी और अदरक के रस को मिलकर  लेने से कफ में बहुत लाभदायक है |

हनी का लगातार सेवन करने से  वजन घटता है | इसे  हलके गुनगुने पानी में मिलकर ले सकते है |

घाव भरने में Honey Ke Fayde ( Healing Wounds ) –

शहद में एंटीफंगल और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते है |

त्वचा पर कोई घाव है तो हनी लगाने पर यह घाव को जल्दी भर देता है और  घाव पर बैक्ट्रिया को पनपने नहीं देते है | यह  दवाई का काम करता है |

दैनिक जीवन में हनी का उपयोग-

  • शुद्ध हनी पूजा में काम आता है |
  • Honey Face Pack और बहुत से कॉस्मेटिक आइटम्स बनाने के काम आता है |
  • शहद कभी ख़राब नहीं होता और बैक्ट्रिया को ख़त्म कर  देता है इसीलिए प्राचीन काल में  यह मम्मीस ( Mummy )  को सुरक्षित रखने में काम लिया जाता था |
  • मम्मीस पर कई तरह के रासायनिक प्रदार्थो का लेप किया जाता था जिसमे  प्राकर्तिक शहद भी उपयोग किया जाता था जिसकी वजह से मम्मीस  हजारो साल से सुरक्षित है |

Related Post- For Oily Skin – Home Made  Honey Face Pack कैसे बनाते है |

Leave a Comment