Daad Khaj Khujli Ka Ilaj | 2 दिन में दाद खाज खुजली जड़ से ख़त्म तुरन्त घर बेठे

Share it

Daad Khaj Khujli- दाद खाज खुजली होने को तो खुजली बहुत साधारण सा रोग है पर जिसको हो जाये कई बार उसके  बेहाल हो जाते है खुजाते खुजाते | ये शरीर में त्वचा  ( Skin )  के उपर होते है और इनको चर्मरोग ( dermatosis ) भी कहते है |

Daad Khaj Khujli Ka Ilaj
Daad Khaj Khujli Ka Ilaj

दाद खाज खुजली भी एक प्रकार के त्वचा रोग ( Skin Disease ) है |

आखिर क्यू होती है दाद खाज खुजली?

आइये जानते है  क्या  और क्यू  होते है दाद खाज खुजली  और दाद खाज खुजली के कारण, लक्षण और  इसके क्या घेरुलू इलाज हम कर सकते है विस्तार से-

दाद क्या होता है और इसके क्या लक्षण होते है? : Symptoms of Ringworm

यह त्वचा पर एक गोल रिंग ( Ring ) जेसा होता है| ये सफ़ेद या लाल- सफ़ेद रंग का दिखता है | रिंग के किनारे किनारे लाल रंग के  दाने -दाने ( Red Bumps )   से होते है |

दाद पर जलन और खुजली ( Itchy Skin ) होती है |

अधिक खुजलाने पर यह त्वचा पर फेलता है |

Daad Khaj Khujli किस कारण से होते है : Fungal Infection-Ringworm causes

दाद खाज और खुजली एक त्वचा रोग है | और यह रोग त्वचा  के बाहर या त्वचा के भीतर किसी विपरीत प्रभाव से होते है |

हमारे शरीर में भी अंदरूनी गंदगी होती रहती है और अगर हमारा पेट ख़राब रहता है या हमारे शरीर का खून साफ़ नहीं है तो त्वचा रोग हो सकते है |

शरीर में अगर लीवर सही से काम न करे तो भी दाद खाज खुजली हो सकती है |

Daad Khaj Khujli किस कारण से होते है ? Ringworm Causes

फंगल /फफूंदी संक्रमण ( Fungal Infection ) परजीवी त्वचा को संक्रमित करता है और त्वचा पर फेलता है |

दाद होने की मुख्य वजह हमारे शरीर से निकलने वाला पसीना है | और हमारे शरीर के जिस अंग पर पसीना ज्यादा  आता है, दाद या फंगल इन्फेक्शन रिंगवर्म  उसी जगह होता है –

जेसे  गर्दन, जन्घो पर , उंगलियों के बीच में  और शरीर के प्राइवेट पार्ट , आदि जगह ज्यादा होते है |

दाद खाज खुजली  होने के मुख्य कारण निम्न है –

  • दाद ,खाज खुजली  एक व्यक्ति से दुसरे व्यक्ति में फेलने वाले चर्मरोग है |
  • यह आपके गीले या नमी वाले कपडे पहने की वजह से हो सकता है |
  • एक ही कपडे  या गंदे कपडे को अधिक दिन तक पहनने से हो सकता है |
  • किसी अन्य व्यक्ति के तोलिये या कोई अन्य कपडे इस्तेमाल करने पर हो सकता है |

Daad Khaj Khujli का घेरुलू इलाज :Home Remedies for Ringworm

दाद खाज खुजली का इलाज घेरुलू नुस्के से कर सकते है | दाद खाज और खुजली का इलाज त्वचा के बहार से और त्वचा  के अन्दर दोनों ( External & Internal ) तरफ से करना होता है |

बहुत से आसानी से आप घर पर इसका इलाज कर सकते है | यंहा कुछ घेरुलू नुस्के की विधि है आप निमानुसार तैयार कर सकते है –

web designing course
free web designing course

दाद के घेरुलू नुस्के की विधि (Daad ka Ilaj ) -1

सामग्री –

  • पूजा में काम आने वाला कपूर ( Camphor )  3 पीस
  • Boric Powder  एक चम्मच
  • नारियल तेल – दो चम्मच
  • रुई ( Cotton )

उपरोक्त सभी सामग्री आपको आपकी रसोई या नजदीक की पंसारी/परचूनी की दुकान पर आसानी से मिल जाएगी |

Boric Acid Uses या बोरिक पाउडर  –

यह पाउडर केरम बोर्ड पर डालने वाला पाउडर ही होता है | बोरिक एसिड में  एंटीसेप्टिक और एंटीफंगल गुण होते है | यह बेक्टीरिया और फंगस को बढने से रोकता है | यह आपको किसी ही मेडिकल स्टोर पर आसानी से मिल जायेगा |

कपूर ( Kapur- Camphor ) –  

कपूर त्वचा या दाद  पर होने वाली खुजली को मिटाता है | इसको लगाने से पहले ध्यान रहे की तवचा  कही  से कटी/छिली ( Broken Skin )  नहीं होना चहिये | मतलब ये आपकी त्वचा के अन्दर नहीं जाना चहिये | यह हानिकारक हो सकता है | यह त्वचा के बाहरी भाग पर लगा ( Only for External Use )  सकते है |

एक साफ़ कटोरी लीजिये और उसमे- 3 पीस कपूर को पीसकर पाउडर बना कर साथ में एक चम्मच बोरिक पाउडर और दो चम्मच नारियल तेल को अच्छे  से मिलाकर एक मिश्रण ( पेस्ट ) बना ले और एक साफ़ रुई से शरीर पर जंहा दाद है धीरे धीरे हलके हाथ  से लगाये |

ये परक्रिया आप एक दिन में दो बार करे | दो -तीन दिन में दाद ठीक हो जायेगा |

दाद के घेरुलू नुस्के की विधि-(Daad ka Ilaj )-2

सामग्री –

  • कपूर-3पिस
  • तुलसी के पत्ते -8-10 पीस- तुलसी बहुत ही  ओषधिय गुणकारी पोधा है | यह बहुत से बीमारियों में काम आता है |
  • अलोविरा जेल – 10-20 ग्राम- अलोविरा /ग्वारपाठा त्वचा के लिये बहुत ही गुणकारी पोधा है | आप इसे घर भी आसानी से गमले  में आसानी से लगा सकते है |

विधि –एक कटोरी में तीन  पिस कपूर लेकर इनको कूटकर पाउडर बना ले और इसमे 8-10 पत्ते तुलसी पत्तो को कूटकर मिला ले | अब एक ताजा अलोविरा ( ग्वारपाठा ) लेकर उसका जेल /गुदा निकल कर इन सबको आपस में मिला ले और ये मिश्रण/पेस्ट की तरह बन जायेगा |

अब इस पेस्ट को दाद के ऊपर लगाकर सूखने दे और 3 से 4 घंटे बाद साफ़ पानी से धो ले और दाद पर थोडा नारियल का तेल लगा ले  | दो तीन दिन  तक ये परक्रिया करे | दाद बिलकुल ख़त्म हो जायेगा |

सेब का सिरका /निम्बू / विक्स वेपोरब  लगाने से दाद जल्दी ख़त्म हो जाता है |

त्वचा से दाद के निशान को किस तरह हटाये – How to remove fungal infection marks from skin

जब दाद ठीक हो जाता है तो इसकी जगह एक रिंग जेसा निशान रह  जाता है और धीरे धीरे यह निशान काले रंग का होता जाता है | तो इस निशान को हटाने के लिये – जेसे ही दाद सुखकर खत्म होता है आप इस पर नियमित रूप से नारियल का तेल लगाये और ताजे निम्बू का छिलका रगड़े | दाद का निशान साफ़ हो जायेगा |

अलोविरा जेल लगाये |

सेब का सिरका  ( Apple Cider Vinegar ) लगाये

Daad Khaj Khujli होने या फेलने से केसे बचा जा सकता है? | How to cure fungal infection on skin naturally

दाद होने के बहुत से कारण होते है पर अगर आप अपने शरीर की सफाई नियमित रखे तो दाद को  होने या इसके फेलने  से बचा जा सकता है |

इसके अलावा अपनी दिनचर्या में आप निम्नलिखित बातो का ध्यान रखे-

  • साफ़ तोलिये का इस्तेमाल करे और किसी अन्य व्यक्ति का तोलिया/कपडे  काम में न ले |
  • गीले या नमी वाले कपडे नहीं पहने  खास तोर से अंडर गारमेंट्स तो बिलकुल गीले/नमी नहीं होनी चहिये |
  • ढीले और सूती कपडे ( Cotton Clothes ) पहने जो पसीने को सोख सके | ज्यादा तंग कपडे जसे की जींस पेंट आदि ना पहने |
  • शरीर को पसीने से साफ़ रखे या अगर आप व्ययाम या  कोई शारीरक परिश्रम करते है जिसमे पसीना ज्यादा आता है तो इसके बाद नहाना बहुत जरुरी है |
  • कपड़ो को पंखे की हवा की बजाये सूरज की तेज  धुप  में सुखाये |
  • अपने बिस्तर /तकिये /चद्दर आदि को नियमित धुप में रखे ताकि बेक्ट्रिया खत्म हो सकते
  • नीम के साबुन से नहाये और शरीर को साफ तोलिये से  अच्छी तरह से पोछे और धुप का सेवन करे|
  • अपने नाख़ून कटे हुवे व साफ़ सुथरे रखे |
  • पब्लिक प्लेस या कॉमन टॉयलेट का इस्तेमाल बहुत अधिक जरुरी होने पर ही करे | कोशिस करे की इंडियन टॉयलेट ही  काम में ले  | यूरोपियन टॉयलेट में स्किन टॉयलेट के संपर्क में आती है |
  • सुबह  उठकर गुनगुना पानी पिए |
  • दाद का जड़ से ख़त्म होना चहिये | दाद जब बिलकुल ठीक हो जाये तो ही इलाज बंद करे अन्यथा कई बार ये दुबारा हो जाता है |
  • पेट साफ़ होना जरुरी है | शरीर में बनने  वाले टोक्सिंस का बहार निकलना जरुरी है |
  • शरीर का वजन नियंत्रित रखे | शुगर के मरीज में यह अधिक फेलता है |

यह भी देखे- चुटकी में करे एसिडिटी का  तुरंत इलाज घर बेठे घेरुलू नुस्के से |

खुजली का कारण, लक्षण और घेरुलू इलाज – Itchy Skin Treatment

शरीर के कसी भी अंग पर या पुरे शरीर पर कंही भी हो  खुजली सकती है | दाद और खाज -खुजली होने के कारण एक से ही होते है  | यह एक चर्म रोग है | खून में जमा होने वाली गंदगी और शरीर पर आने वाला पसीना  इसकी एक बड़ी वजह है |

इस बीमारी  का इलाज शरीर के अंदर एवम बहार दोनों तरह से किया जाता है |

  •  खाने में  नमक और मीठा बंद कर दे या कम से कम करे |
  • कडवे नीम के पत्तो को  पानी में उबाल कर उस पानी से नहाये और नीम साबुन का उपयोग करे |
  • गिलोय का जुस पिए |
  • तुरंत आराम के लिये जंहा खुजली हो शरीर के उस भाग पर अलोविरा का जेल लगा ले, खुजली में तुरंत आराम आ जायेगा |
  • रोजाना सुबह प्राणायाम करे |
  • कपूर , तुलसी  और अलोविरा जेल मिलाकर मिश्रण बनाकर लगाये

भारत में बहुत सी बीमारियों का इलाज प्राचीन काल  से  घर पर किया जाता रहा है | प्राचीन ग्रन्थ आयुर्वेद में बहुत से बीमारियों और इलाज के बारे में वर्णन किया  है |

हमारी दादी या नानी भी कुछ घेरुलू नुसको से कुछ बीमारियों का इलाज घर पर ही करती आई है | और भी घेरुलू नुस्खो और देनिक जीवन से जुडी जानकारियों  के लिये Hindi Spray पर जरुर विजिट करते रहे |

दोस्तों, अगर आपको यंहा दी गई जानकारिया  पसंद आती है तो अपने सोशल मिडिया एकाउंट्स पर जरुर शेयर करे ताकि ये जानकारी  जरुत्मंद तक पहुच सके |

निशुल्क वेबसाइट डिजाइनिंग कोर्से के लिये विजिट करे – Wonder Webhost

Leave a Comment